बुखार के लक्षण, बचाव, परहेज और घरेलू इलाज
Fever in Hindi

बुखार के लक्षण, बचाव, परहेज और घरेलू इलाज <br>  Fever in Hindi

बुखार के घरेलू उपाय
Home remedies of Fever in Hindi

 

  • बुखार की देसी दवा है लौंग, दालचीनी, यष्टिमधु, शहद।
  • तुलसी, पुदीना और अदरक की चाय बुखार कम करने के लिए।
  • गुनगुना पानी और नींबू के रस का सेवन करे दिन में ३-५ बार।
  • नीम उत्तम औषध है फीवर के घरेलु इलाज के लिए। 
  • लहसुन और सरसों के तेल की मालिश करे। 

 

 

 

बुखार के बारे में जाने
Know about Fever in Hindi

 

बुखार और खास करके वायरल बुखार सीजन के बदलने पर आसानी से लग जाता है। ऐसे में लोग डिस्प्रिन खाकर आराम पाने का सोचते है।मगर उन्हें यह ध्यान में रखना होगा की वायरस के सामने कोई दवाई का असर नहीं होता है।

बुखार में तापमान बढ़ जाता है। बच्चों के बुखार का इलाज और बड़ी उम्र वालो के लिए भी यह रास्ता अपनाये। टॉवल को पानी में भिगो के शरीर को पोछे ताकि तापमान कम हो जाये। माथे पर ठन्डे पानी की पट्टी रखे। आलू को सिरके में भिगो के शरीर पर और माथे पर घिसे तो भी बुखार में राहत मिलेगी। एलोपैथिक दवाई से शरीर को नुकसान पहुँचता है। इससे बेहतर है की आप बुखार का इलाज घर पर करे और बुखार का घरेलु इलाज (Home remedies for fever in Hindi)  जो यहाँ पर बताया है उन्हें इस्तेमाल करे। साधारण बुखार में यह सभी घरेलु नुस्खे जो बताये है वोही काम करेंगे। मगर यह भी ध्यान में रखे की कई बार बुखार कोई गहरी बीमारी का लक्षण हो सकता है तो २-३ दिन में अगर बुखार का शमन नहीं होता है तो जरूर डॉक्टर से चिकित्सा करवाए।  

 

बुखार के लक्षण
Fever Symptoms in Hindi 

 

इन्फेक्शन हो जाए, मौसम बदले, ज्यादा परिश्रम करे या नींद और आराम कम ले ये सब बुखार के कारण हो सकते है। शरीर में कोई भी इन्फेक्शन हो चाहे बैक्टीरियल हो या वायरल तो शरीर उसका प्रतिकार करता  है और नतीजा है की बुखार के लक्षण प्रकट होते है। अब ऐसे में दवाई खाने के बदले आप यहाँ बताये गए बुखार का देसी इलाज करे तो शीघ्र ही आप की हालत ठीक हो जायेगी। 

बुखार के लक्षण कुछ ऐसे होते है। 

  1. शरीर का तापमान बढ़ जाता है।
  2. शरीर में दर्द होता है और बेचैनी रहती है।
  3. कमजोरी लगती है।
  4. सिर में दर्द हो सकता है।
  5. भूख नहीं लगता है और स्वाद चला जाता है जीभ पर से। (और पढ़े :- भूख लगने और बढ़ाने के घरेलू उपाय)

 

बुखार से बचाव
Prevention of Fever in Hindi 

 

बुखार तब हो जाता है जब रोग प्रतिरोधक शक्ति कम हो जाती है। ऐसे में बुखार के आयुर्वेदिक नुस्खे अपनाये। इन घरेलु नुस्खो से शरीर में उपस्थित कीटाणु का नाश होगा और विषाक्त पदार्थ (Toxins) निकल जाएंगे और प्रतिकारक शक्ति बढ़ेगी। 

  1. दशमूलारिष्ट का सेवन करे।
  2. हफ्ते में २-३ बार kariyatu का पानी पिए।
  3. सुदर्शन घनवटी हफ्ते में २-३ बार खाये। 

 

बुखार में परहेज क्या करे
What To Avoid in Fever in Hindi 

 

  1. बुखार में ठन्डे पानी से न नहाये।
  2. ठंडा खाना केला, आइस-क्रीम, दही और चीनी न खाये। 
  3. पैरो को और बदन को ढककर रखे अगर ठण्ड के साथ बुखार आया है। 

और पढ़े​ :-

सर्दी, बुखार का इलाज 

बुखार के 7 घरेलू इलाज

 

बुखार का घरेलू इलाज
Fever Treatment in Hindi 

 

1) बुखार कम करने का उपाय है तुलसी, पुदीना और अदरक की चाय - Basil, Mint and Ginger Tea Benefits for Fever in Hindi 

इन तीनो में विशेष एंटी-बैक्टीरियल और एंटी-वायरल तत्व है। साथ में एंटी-ऑक्सीडेंट गुण भी है। तो आप चाय बनाये थोड़ी चाय पत्ती के साथ उसमें कुचले हुए पुदीना, तुलसी, अदरक और थोडासा काली मिर्च पाउडर डालकर साथ में उबले। इसमें नींबू का रस और शहद मिलाकर पिए दिन में ३ बार तो आराम मिलेगा। 

और पढ़े :- जाने तुलसी के बेहतरीन फायदे

2) बुखार कम करने के घरेलु उपाय में करें गुनगुना पानी और नींबू के रस का सेवन - Warm Water and Lemon Benefits for Fever in Hindi 

साधारण फीवर के घरेलु इलाज में एक उत्तम नुस्खा है की आप कुछ दवाई न खाये और आहार भी नहीं खाये। बस आराम करे और सो जाए और उपवास करे कम से कम एक दिन के लिए। सिर्फ गर्म पानी और नींबू का रस पिए। दिन में ३-५ बार। 

और पढ़े :- स्वास्थ्य के लिए नींबू के बेहतरीन फायदे

3) बुखार की देसी दवा है लौंग, दालचीनी, यष्टिमधु, शहद - Clove, Cinnamon, Yashtimadhu and Honey Benefits for Fever in Hindi

वायरल इन्फेक्शन हो जाए और बेचैनी लगे तो लौंग का पाउडर, दालचीनी पाउडर और यष्टिमधु पाउडर को शहद और थोड़ा सा काली मिर्च पाउडर के साथ मिलाकर गोली बनाये और दिन भर चूसते रहे। नींद न आये ऐसी हालत हो तो इसमें जायफल चूर्ण मिला ले। यह वायरल और सर्दी-जुखाम, बुखार में काम करता है।

और पढ़े :- दालचीनी के फायदे 

4) बुखार के घरेलू नुस्खे में करें उपयोग नीम की पत्तियों का - Azadirachta indica Leaf Benefits for Fever in Hindi 

नीम उत्तम औषधी है फीवर के घरेलु इलाज के लिए। बस इनके पत्ते को पानी में उबाल दे और दिन में २-३ बार ¼ कप का सेवन करे तो बुखार का शमन होगा। इसमें हल्दी मिलाये तो और भी बेहतर होगा।

और पढ़े :- नीम के खास फायदे और लाभ 

5) बुखार दूर करने का तरीका है लहसुन, प्याज और हरी मिर्च का सेवन - Onion, Garlic and Green Chilli Benefits for Fever in Hindi 

बुखार से बचने के लिए सूप बनाये प्याज, लहसुन और हरी मिर्च का। चाहे तो इसमें थोड़ा सा आलू और पनीर डाले और इसका सेवन करे तो बुखार में जल्दी राहत मिलेगी। ऊपर थोड़ा कला मिर्च पाउडर छिड़क के सूप पिए। 

और पढ़े :- प्याज खाने के फायदे 

6) बुखार के घरेलू उपाय है लहसुन और सरसों के तेल की मालिश - Garlic and Mustard Oil Massage Benefits for Fever in Hindi

बुखार के लिए घरेलू नुस्खे में यह नुस्खा अवश्य आजमाये। लहसुन का पेस्ट बनाये और इसे सरसों के तेल में डालकर थोड़ी देर तक उबले। ठंडा होने पर गले पर छाती पर हाथो पर और पैरो के तलवे पर इस तेल से मालिश करे। 

और पढ़े :- लहसुन के फायदे 

7) कच्चे आम है बुखार के लिए घरेलू उपचार - Green Mango Benefits for Fever in Hindi 

गर्मियों में ज्यादा देर तक धूप में घूमने से अगर लू लग जाए तो कच्चे आम को पानी में उबाल दे और फिर अंदर का पल्प निकल कर गुलाब के पेस्ट के साथ मिलाये और चीनी और पानी मिलाकर शरबत बनाकर पिए।

और पढ़े :- आम के फायदे

TAGS : #fever symptoms in hindi #causes of fever #fever remedies #viral fever #high fever in children #high fever symptoms #bukhar ka ilaj in hindi #bachon ke bukhar ka ilaj #bukhar in English #fever treatment in hindi #bukhar ke liye gharelu nuskhe #fever ka ilaj #bukhar ka gharelu upchar #bukhar ke gharelu upay #fever ke lakshan #fever hone par kya kare

Gharelu Nuskhe

Leave a Comment

Your Name

Comment

19 Comments

sonam, Nov 18, 2016

Mera baby hai 3 saal ka use bahut regular bukhar hota rehta hai to aap plm mje bachon ke bukhar ka ilaj bataye

mannu, Nov 23, 2016

mujhe fever chadh jata hai aur utar jata hai 2 din se aese hi chal raha hai aap mjhe viral fever symptoms and treatment in hindi bataye

faizal, Nov 25, 2016

bukhar ki dawa koi bataye

ashish, Nov 29, 2016

sir mera bukhar 3 din se nahi utar raha bukhar ke gharelu nuskhe bataye aap mujhe jisse mera bukhar utar jaaye

anjali, Nov 30, 2016

bahut ache bukhar ka ilaj

nayab, Dec 01, 2016

mare paer mai bahut dard hota hai jab bukhar ata hai plzz kuch gharelu ilaj bataye

Ritu, Dec 02, 2016

mjhe bahut tez bukhar hota hai aur dawai khate hi utar jata hai fir dobara chadh jata hai koi gharelu upay bataye bukhar ke ilaj ke liye

ashish, Dec 05, 2016

thanku sir aapne bahut ache gharelu upay diye hai

prakash, Dec 09, 2016

bukhar baar baar hota hai koi ilaj bataye

satpal singh, Dec 11, 2016

typhoid bukhar ka ilaj bataye

vidya, Dec 14, 2016

Tusli ke patte se aap ghar pe hi bhukar ki dawa bana sakte hai jisse aapko jald hi aaram milega

Jyoti, Aug 05, 2017

mujhe kal raat bahut bukhaar tha aur mere pass koi medicine bhi nahin thee aur ghar me bhi koi nahin tha to maine online check kiya or apka gharelu nuskha ko apnaya to mera bukhar bina dawai ke theek ho gaya appka ye hindi gharelu nuskhe bahut achche hain|

योगिंदर, Sep 08, 2017

होम रिमेडीज फॉर फीवर इन हिन्दी आपके हिन्दी घरेलू नुस्खे बहुत अच्छे हैं किया आप मुझे बता सकते हैं ऐसे कई हिन्दी घरेलू नुस्खे हैं जिससे मेरा नज़ला ठीक हो सके मैं घर में बैठे बैठे घरेलू नुस्खे अपना कर अपना नज़ला ठीक कर सकूँ|

Sita Sinha , Oct 23, 2017

Tulsi ek behtarin aushdi hai jis se kai tarah ke rog door ho jaate hain ek chamch tulsi ke kuchle hue patte len aur ek chothai chamch kali mirch len inhen ek cup pani mai achche se ubalen 5 minute tak ise achche se ubalen fir thanda hone per is pani ko pi len is se bahut hi jaldi apki khansi aur bukhar thik ho jayega.

रुचिका श्रिवास्तव, Oct 25, 2017

सर्दी से होने वाले बुखार में अदरक बहुत फायदेमंद होती है। अदरक को कुट-पीसकर घी में भूनकर दिन में 3-4 बार खाने से जुकाम बुखार और खांसी ठीक हो जाती है या अदरक का रस निकाल लें फिर इसमें उतनी ही मात्रा में शहद मिलाकर खायें इस उपाय से आपको सर्दी जुकाम में बहुत राहत मिलती है|

कविश मल्होत्रा , Oct 27, 2017

बुखार के दौरान पानी अधिक से अधिक पिएं इसका कारण यह है की बेक्टीरिया हमारे शरीर में पानी की कमी से ज्यादा पनपते है अधिक पानी पीने से सफ़ेद रक्त कोशिकाए ठीक से अपना काम करती है और इनकी संख्या भी बढती है।

मेहर चन्द, Oct 30, 2017

वायरल होने से वाले शरीर में कुछ इस तरह के लक्षण दिखते हैं जैसे गले में दर्द खांसी सिर दर्द थकान जोड़ों में दर्द के साथ ही उल्टी और दस्त होना आंखों का लाल होना और माथे का बहुत तेज गर्म होना आदि बड़ों के साथ यह वायरल फीवर बच्चों में भी तेजी से फैलता है|

ममता सैनी, Nov 03, 2017

किसी कपड़े को ठंडे पानी में भिगोकर शरीर को पोंछे इसके अलावा ठंडे पानी की पट्टियां सिर पर रखने से भी लाभ होता हे और शरीर का तापमान कम होता है कपड़े को समय-समय पर बदलते रहना चाहिए। सामान्य बुखार के लिए यह बेहद अच्छी प्रक्रिया है जो तापमान को बढ़ने नहीं देती।

ज़ाहिर ख़ान, Nov 06, 2017

लहसुन की गर्म तासीर भी शरीर में पसीना लाकर शरीर का तापमान कम कर सकती है। यह शरीर से हानिकारक विषाक्त पदार्थों को भी बाहर निकालने में सहायक है इतना ही नहीं लहसुन एंटीफंगल और एंटीबैक्टीरियल गुणों से भरा है जो शरीर को इम्यूनिटी देता है।