जाने कैसे होता है प्राकृतिक गर्भपात???

जाने कैसे होता है प्राकृतिक गर्भपात???
  • कटे हुए पपीते और कटहल को खाने से अनचाहा गर्भ नहीं ठहरता।
  • तिल के तेल से ग्रीवा पर मालिश करने से पीरियड में दर्द नहीं होता।
  • एंजिलिका सिनेसिस नामक चाइनीज पौधे की जड़ को पानी और शहद के साथ खाने से काफी हैवी bleeding होती है।
    • पेनिरोयल नामक जड़ी बूटी के तेल या फिर उसकी चाय को प्रतिदिन 3-6 गोली का सेवन करने से इस काम में फायदा पहुंचता है। इसको लेने से महिला को थकान, चक्‍कर और पसीना आता है। जिन महिलाओं को मूत्र संबधि कोई समस्‍या है, उन्‍हें इसके सेवन से बचना चाहिये।
    • कुछ सिंपल एक्‍सर्साइज, कार्न डाइट, हॉट बाथ और ऑर्गैज़म पा कर आप मिसकैरेज को अंजाम दे सकती हैं।.....और पढ़े>>
Loading...

Leave a Comment

Your Name

Comment

2 Comments

sony, Jul 18, 2017

Mujhe bachcha nahi ho raha hai mai kya kroon

सन्तोश कुमारी, Jul 20, 2017

कुछ सिंपल एक्‍सर्साइज, कार्न डाइट, हॉट बाथ और ऑर्गैज़म पा कर आप मिसकैरेज को अंजाम दे सकती हैं कटे हुए पपीते और कटहल को खाने से अनचाहा गर्भ नहीं ठहरता