10 कारण हमे माइग्रेन क्यों होता है - Causes of Migraine in hindi

10 कारण हमे माइग्रेन क्यों होता है - Causes of Migraine in hindi

माइग्रेन के कारण (Causes of migrain in hindi, Migraine ke karan in hindi): यह एक राज़ है की कई लोगो को माइग्रेन कभी नहीं होता है तो कई लोग माइग्रेन से बहुत ही परेशान रहते है और माइग्रेन के इलाज में जुटे रहते है| यह माइग्रेन क्या है और माइग्रेन कैसे होता है? पढ़ते रहिए और जानिए 10 कारण माइग्रेन होने के (10 reasons of migraine pain in hindi)| 

आम कारण माइग्रेन होने के – Common underlying causes of migraine in hindi

माइग्रेन का उपाय करना है तो पहले माइग्रेन होने के कारण जानना ज़रूरी है| माइग्रेन कई अलग कारणों से होता है जैसे की केंद्रिया स्नायुतंत्र (centralnervous system)में गड़बड़ी हो| ऐसा भी होता है की रक्त वाहिनी अगर संकुचित हो जाए या तो फैल जाए तो भी यह दिमाग़ में रक्त संचार पर असर कर के माइग्रेन कर देता है| कई लोगो को वंश परंपरागत तौर पर माइग्रेन होता है| दिमाग़ में विद्युत और रसायनिक प्रतिक्रियाएं होती रहती है और अगर इनमें असंतुलन आ जाए तो भी माइग्रेन का दर्द होता है| ऐसे ही होर्मोनेस के संतुलन और संचार में गड़बड़ी हो तो यह माइग्रेन का कारण है| 

माइग्रेन का कारण है तनाव और थकान – Stress and fatigue reasons for migraine in hindi

माइग्रेन क्यों होता है तो इसका जवाब है की ज़्यादा तनाव हो जाए या तो अधिक परिश्रम किया हो तो माइग्रेन खड़ा हो जाता है| ऐसे में आराम करे और तनाव दूर करने के लिए प्राणायाम करे| 

नींद ठीक से ना आना माइग्रेन का प्रमुख कारण है – Irregular sleep causes of migraine in hindi

अगर किसी को आदत हो गई है देर तक जागने की और फिर नींद भी ठीक से नहीं आती है तो माइग्रेन का कारण बन जाता है| ऐसे ही अगर कोई 8 घंटे से ज़्यादा नींद ले तो भी माइग्रेन हो जाता है| 

माइग्रेन का कारण है आहार में रहे रसायन – Foods can cause migraine in hindi

माइग्रेन कैसे होता है तो जानिए की आहार से भी एलर्जी होने के कारण या तो आहार मे रहे कई रसायन से सवेदनशील व्यक्ति में माइग्रेन का असर होता है| ख़ास तो अमीन(amine) याने अमोनिया (Amino)प्रकार के रसायन से माइग्रेन वाले बच के रहे| त्यरामीने (Tyramine)पाया जाता है अंडे, केले, संतरे, पालक, टमाटर, कॉफी, वाइन और  चीज़ जैसे पदार्थ में| फेनयलेतयलमीने (Phenylethylamine) मिलता है चॉक्लेट में और यह रसायन भी माइग्रेन को उकसाता है| चाय, कॉफी, कोकोआ और कोला पेय पदार्थ में भी कैफीन (caffeine)है जो रक्त वाहिनी को चौड़ा कर के दिमाग़ पर दबाव डाल के माइग्रेन का कारण बन जाता है| शराब में भी है रसायन जो माइग्रेन के दौरा के लिए ज़िम्मेदार है| तैयार खाने में MSG और नाइट्रेट(nitrate) रसायन होते है जो कई लोगो में माइग्रेन शुरू कर देते है| मधुमेह के मरीज़ अगर अस्पर्टेमे(aspartame) और ऐसे मीठे करने के रसायन उपयोग करे तो भी माइग्रेन हो सकता है| अगर खाने से माइग्रेन होता है तो भूखे पीट अगर रहे तो खून में शर्करा कम होने से भी माइग्रेन का दौरा पड़ जाता है| 

माइग्रेन का कारण है रोशनी और शोरगुल – Bright lights and noise are causes of migraine in hindi

रोशनी अगर तेज हो या तो ज़्यादा शोरगुल वाला वातावरण हो तो सवेदनशील व्यक्ति में यह माइग्रेन का कारण हो जाते है| 

ज्ञानतंतु पर कोई भी असर माइग्रेन का कारण बन सकता है – Sensory stimulus causes of migraine in hindi

माइग्रेन कब होता है तो यह जानिए की ज्ञानतंतु पर कोई भी ऐसा असर पड़े जैसे की बहुत तेज खुश्बू या बदबू हो, हवा में उड़ते धुए के कन हो, कोई परेशान करने वाली बात हो जाए तो भी माइग्रेन प्रवृत्ति के व्यक्ति को माइग्रेन शुरू हो जाता है| 

माइग्रेन का कारण है दवाई  – Medications are reason of migraine pain in hindi

कई ऐसी दवाई है जो दिल के मरीज़ लेते है, मधुमेह के मरीज़ लेते है, गर्भवती महिला लेती है या तो गर्भ रोकने की दवाई है तो यह सब भी माइग्रेन को उकसा देती है| 

माइग्रेन का प्रमुख कारण है मौसम में बदलाव – Weather is causes of migraine headaches in hindi

माइग्रेन प्रवृत्ति के व्यक्ति मौसम के बदलाव से सवेदनशील होते है| मौसम में प्रेशर बढ़ गया या कम हो गया जैसे बारिश और तूफान के मौसम में होता है तो इसका सीधा असर इन व्यक्ति पर होता है| 

पुरुष-स्त्री लिंग माइग्रेन का कारण – Gender influences migraine in hindi

माइग्रेन क्यों होता है इस बात में जानिए की लिंग के कारण भी माइग्रेन का प्रकोप होता है| महिलाओ को माइग्रेन होने की ज़्यादा संभावना रहती है| 

माइग्रेन का कारण वंश परंपरागत भी होता है – family and genetics causes of migraine in hindi

माइग्रेन वंश परंपरागत मुसीबत होती है| अगर किसी के माँ-बाप या तो रिश्तेदार में माइग्रेन है तो यह गुंजाइश है की उसको भी माइग्रेन हो सकता है| 

यह सब बाते ध्यान में रखते हुए जो व्यक्ति माइग्रेन प्रवृत्ति वाला हो तो वो खास ध्यान रखे और सावधानी रखने से माइग्रेन से बच सकेंगे|

TAGS: #causes of migraine #migraine hone ke karan #reasons of migraine heaches in hindi #migraine ka ilaj #migraine ke gharelu upay nuskhe tarike

Leave a Comment

Your Name

Comment

6 Comments

Suchitra Sinha, Dec 26, 2017

Main kai din se apne sir ke dard se pareshan hun pehle to mujhe laga ki tension ki wajah se sir dard hai jab tention khatm ho jaayega to dard khatm ho jaayega lekin aisa nahin ho raha mere sir mai lagataar 3-4 din tak dard rehta hai aur iske wajah se baal bhi jhadte hain ise thik karne ka koi tarika bataiye?

Meera Negi, Dec 27, 2017

Mere sir mai bahut dard hai aur iske wajah se baal jahd rahe hain kiya aap mujhe migrain hone ke lakshan bata sakte hain ki migrain ke kiya lakshan hote hain.

सुहाना , Dec 30, 2017

अगर आप माइग्रेन का दर्द होने के समय सेब का सेवन कर लें तो इससे आपको माइग्रेन के दर्द से तुरंत छुटकारा प्राप्त हो जाता है एक हरे सेब को सूंघने जैसी आसान प्रक्रिया का पालन करने से भी माइग्रेन का दर्द कम होता है और इसकी गंभीरता में भी काफी कमी आती है।

कबीर ख़ान , Jan 04, 2018

जिन लोगों को पहले से ही एस्थमा या एलर्जी की समस्या होती है साथ ही अगर उनकी नाक भी बंद हो तो ऐसी अवस्था को रीक्यूरेंट साइनस कहा जाता है।

तरुण पांडे, Jan 09, 2018

कभी-कभी आंखों पर अधिक जोर पड़ने से भी सिरदर्द हो जाता है सिरदर्द कई तरह का होता है इसलिए अगर कोई आम कारण समझ में न आए तो किसी नेत्र विशेषज्ञ से भी मिलना चाहिए अगर ऐसा हो तो आंखों के कुछ सामान्य व्यायाम से इससे राहत पाई जा सकती है।

फ़ातिमा अंसारी, Jan 19, 2018

माइग्रेन का दर्द आमतौर पर सिर के एक सिरे से या कभी-कभी बीचों बीच से या पीछे की तरफ से उठता है और इसकी प्रकृति धुकधुकी जैसी होती है जो 2 से लेकर 72 घंटों तक बना रहता है कभी यह रह-रहकर कई हफ्तों या महीनों तक या फिर सालों तक खास अंतराल में उठता है।

Loading...